Credits:Instagram

क्या है कीटो डाइट ?
फायदे और नुकसान

Credits:Instagram/kitodiet

कीटो डाइट कम कर्बोहाइड्रेट आहार के लिए जाना जाता है, कीटो डाइट से लीवर में केटोन्स बनने लगते हैं, जिन्हें शरीर उर्जा के रूप में इस्तेमाल करने लगता है।

Credits:Instagram/kitodiet

इस डाइट को कीटो डाइट के अलावा लो कार्ब और हाई फैट डाइट के नाम से भी जाना जाता है

Credits:Instagram/kitodiet

कीटो डाइट के फायदे

Credits:Instagram/kitodiet

कीटो डाइट लेने से हमारा शरीर फैट को उर्जा के रूप में इस्तेमाल करने लगता है जिससे वजन कम करने में सहायता होती है।

Credits:Instagram/kitodiet

किटो डाइट के फूड्स खाने से रक्त शर्करा कम हो जाती है, जो कम-कैलोरी डाइट की तुलना में डायबिटीज से बचाने में किटो डाइट अधिक प्रभावी है।

Credits:Instagram/kitodiet

कई लोग मानसिक प्रदर्शन को बेहतर करने के लिए कीटो डाइट अपनाते हैं, कीटो डाइट मस्तिष्क के उर्जा का एक बड़ा स्त्रोत है।

Credits:Instagram/kitodiet

सन् 1900 से मिर्गी के इलाज में कीटो डाइट काम लिया जा रहा है, ये कम खर्च में मिर्गी नियंत्रित करने में असरदार है।

कीटो डाइट, ट्राइग्लिसराइड और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाने में मदद करता है, जो धमनियों के लिए फ़ायदेमंद होते हैं। 

Credits:Instagram/kitodiet

लौ कर्बोहाइड्रेट और हाई-फैट डाइट, लो-फैट डाइट की तुलना में ख़राब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करके अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाने में सहायक है

Credits:Instagram/kitodiet
Credits:Instagram/kitodiet

कीटो डाइट के नुकसान

Credits:Instagram/kenwooddeutschland

कीटो डाइट में मैग्नीशियम की कमी के कारण शरीर में ऐंठन और ख़ासकर पैरों में ऐंठन एक सामान्य बात है, ये आमतौर पर सुबह और शाम को अधिक होता है।

Credits:Instagram/kenwooddeutschland

कब्ज की समस्या: इस डाइट में पानी और मिनरल्स की काफी कमी होती है, जिससे कब्ज की समस्या होना काफी सामान्य है

Credits:Instagram/kenwooddeutschland

घबराहट या असामान्य दिल की धड़कन होना - खाने में पोटैशियम की कमी के चलते ऐसा हो सकता है, जो सामान्य है